बारिश Baarish Lyrics Hindi – Nikhil D’souza | Sonu Kakkar, Tony Kakkar

Baarish Lyrics – Nikhil D’souza | Sonu Kakkar


Song Title – Baarish
Singer – Sonu Kakkar, Nikhil D’Souza
Music – Tony Kakkar
Lyrics  – Tony Kakkar
Music Label – Desi Music Factory

Baarish Lyrics In English Sonu Kakkar


Dil yeh kanch ka hai
Dil yeh kanch ka hai

Par iske tutne ki awaaz 
Na kisi ne kabhi suni hai
Jitna bhi sambhaalon 
Yeh dil nahi hai sambhlta

Dard kaise dekhogey tum mere dil ka
Dard kaise dekhogey tum mere dil ka
Baarish mein ansuon ka pata nahi chalta
Baarish mein ansuon ka pata nahi chalta

Teri meri kahani ke kisse bade hain
Tuta hai dil bikhre hue hisse pade hain

Aaja tu aaja‌ 
Hai dil yeh pukaare
Pagal sa dil hai 
Yeh kaun sambhale
Kyu ho gaye tum mujhse judaa

Pyaar sachcha har kisi ko kyun nahi milta
Pyaar sachcha har kisi ko kyun nahi milta
Baarish mein ansuon ka pata nahi chalta
Baarish mein ansuon ka pata nahi chalta

Dil ke dardon ki dawa hoti nahi hai
Aankhe meri bhi bin tere soti nahi hai

Mohobbat junoon hai
Khatam ho na paaye
Mit na sakengi
Chahe hum mil na paaye

Adhuri rahi main‌‌ 
Adhura tu raha

Kya wajah hai jo tu mujhse ab nahi milta
Kya wajah hai jo tu mujhse ab nahi milta
Baarish mein ansuon ka pata nahi chalta
Baarish mein ansuon ka pata nahi chalta


Baarish Lyrics In Hindi Tony Kakkar


दिल ये कांच का है
दिल ये कांच का है

पर इसके टूटने की आवाज़ 
ना किसी ने कभी सुनी है 
जितना भी सम्भालों 
यह दिल नहीं है सम्भंलता

दर्द कैसे देखोगे तुम मेरे दिल का 
दर्द कैसे देखोगे तुम मेरे दिल का 
बारिश में आंसुओं का पता नहीं चलता 
बारिश में आंसुओं का पता नहीं चलता 

तेरी मेरी कहानी के किस्से बड़े हैं 
टुटा है दिल बिखरे हुए हिस्से पड़े हैं

आजा तू आजा
है दिल ये पुकारे
पागल सा दिल है
ये कौन सभांले
क्यों हो गए तुम मुझसे जुदा…

प्यार सच्चा हर किसी को क्यों नहीं मिलता
प्यार सच्चा हर किसी को क्यों नहीं मिलता
बारिश में आंसुओं का पता नहीं चलता 
बारिश में आंसुओं का पता नहीं चलता

दिल के दर्दों की दवा होती नहीं है 
आँखे मेरी भी बिन तेरे सोती नहीं है

मोहोब्बत जूनून है 
खत्म हो न पाए 
मिट ना सकेगी 
चाहे हम मिल न पाये

अधूरी रही मैं 
अधूरा तू रहा

क्या वजह है जो तू मुझसे अब नहीं मिलता
क्या वजह है जो तू मुझसे अब नहीं मिलता
बारिश में आंसुओं का पता नहीं चलता 
बारिश में आंसुओं का पता नहीं चलता