Lyrics 07

मोटी मोटी अंख Motti Motti Akh Lyrics – Shivjot & Gurlez Akhtar

Motti Motti Akh Lyrics – Shivjot & Gurlez Akhtar


Credits :-
Song: Motti Motti Akh

Singer: Shivjot & Gurlez Akhtar

Lyrics/Music: Shivjot
Female Lead: Myra Sareen
Label: T-Series

Motti Motti Akh Lyrics In Hindi – Shivjot & Gurlez Akhtar



वे गड्डियां च रेह्न्दे क्यों गिलास कच्च दे
नी अथने जे लाये बिन कीथे वचदे
वे चीर दी जांदी ऐ उत्तों ठण्ड कालजे
ni ऐवें तां नी मोठे मोठे पेग वजदे

नी कालियाँ रातां च चढ़े चन्न बनके
यार मेरे खड़ दे ने कंध बनके
नी ऐन्ना नाल हुन्न मिलणो वि रह गया
नी काहदा बिल्लो तेरे नाल प्यार हो गया

मोटी मोटी अख दा शिकार हो गया
नी पतले जे लक्क दा खुमार हो गया
26 साल तो सी मेरे लई ही कम्म करदा
नी दिल मेरा अज्ज बस्सों बाहर हो गया

ओह पहली पहली डेट दा करार हो गया
साहां तों ज़रूरी मैनु यार हो गया
21 साल तो सी मेरे लई ही कम्म करदा
वे दिल अज मेरा वी उडार हो गया


डुंगे बड़े आशिकी दे फट्ट बल्लिये
नी तेरे ते क्रेज़ी होया जट्ट बल्लिये
सी फोर्ड दा शौकीन बड़ा मुंडा शुरू तों
नी तेरे पीछे रेंज ते सवार हो गया

मोटी मोटी अख दा शिकार हो गया
नी पतले जे लक्क दा खुमार हो गया
26 साल तो सी मेरे लई ही कम्म करदा
नी दिल मेरा अज्ज बस्सों बाहर हो गया

हाँ मैं वी दिल विच साम्भ साम्भ रखदी
तैनू दुनियां तों चोरी चोरी तक्क्दी
सब कित्तियाँ थ्रो वे मैं गोगलां
काहदी कित्ती तूं तारीफ़ मेरी अख दी

तू टककरी यारां न गुलकंद बनके
नी कित्ती शुरुवात सी फ्रेंड बनके
ni पिन्न दा कलेजा तू प्लाज़ो वालिये
नी रूप तेरा तीखी तलवार हो गया


वे अपनी बना ले शरेआम मुंडेया
आ ले ज़िन्दगी में कित्ती तेरे नाम मुंडेया
मेरे लई तू अम्बरां दे चन्न वरगा
ते होर सरैयां दे लई स्टार हो गया

मोटी मोटी अख दा शिकार हो गया
नी पतले जे लक्क दा खुमार हो गया
21 साल तो सी मेरे लई ही कम्म करदा
वे दिल अज मेरा वी उडार हो गया


ओह तेरे सुइटान ते वरक बिल्लो आरी दा
सारा शहर फैन मित्तरां दी यारी दा
ऐसी लग्गियां दे चाह हुन्दे गोरिये
नशा वखरा ही इश्क़ बीमारी दा हाँ ..

सहेलियां तों पाससे होक बहन लग पई
वे शिवजोत शिवजोत केहन लग पई
में तेरेयां ख़यालां विच रेहन लग पई
ते सोहणा सोहणा सारा संसार हो गया

ओ बच बच बच बच बच गोरिये
मुंडेयां दी तेरे उत्ते अख गोरिये
नी तैनू की दस्सां में बिल्लो ऐसे करके
नी डब्ब च जरूरी हथ्यार हो गया

मोटी मोटी अख दा शिकार हो गया
नी पतले जे लक्क दा खुमार हो गया
26 साल तो सी मेरे लई ही कम्म करदा
नी दिल मेरा अज्ज बस्सों बाहर हो गया

वे अपनी बना ले शरेआम मुंडेया
आ ले ज़िन्दगी में कित्ती तेरे नाम मुंडेया
मेरे लई तू अम्बरां दे चन्न वरगा
ते होर सरैयां दे लई स्टार हो गया

डुंगे बड़े आशिकी दे फट्ट बल्लिये
नी तेरे ते क्रेज़ी होया जट्ट बल्लिये
सी फोर्ड दा शौकीन बड़ा मुंडा शुरू तों
नी मेरे पीछे रेंज ते सवार हो गया

नई नई इक वरि होर आऊंन दे यार


Leave a Reply

Your email address will not be published.